Sher-E-Hind

Sher-e-Hind.jpg

The Sher-e-Hind (Tiger of India) was the highest military decoration awarded by The Azad Hind Government. First instituted by Subhash Chandra Bose in Germany, it was later also awarded to troops of the Indian National Army in South East Asia. The award could be conferred with swords for valour in combat, and without swords for non-combat awards.

Subhashchandra Bose was the most visionary and fierce activist in the pre-independence era. Known as Netaji, he followed the path which no one even could have thought of.

An unparalleled example of the declaration of Independent Indian government with it's own Cabinet & own army was seen in form of the Indian National Army under the leadership of Subhash Chandra Bose. It literally had a military attack on British India & had confronted them till Imphal.

With the help from Germany & active support from Japan, they shook the very foundation of the British Empire. The saga of their valor acclaimed Netaji as a god like figure, akin to the many mythological heroes like Rama or Krishna, and continue as a legend in Indian mind.

netaji-british-jung.jpg

आप स्वामी रामदेव को कांग्रेस द्वारा भ्रष्ट कहने पर चौक जाते है ? नीच कांग्रेस ने संसद मे आज़ाद हिंद फ़ौज को गद्दार कहते हुए आज़ाद हिंद फ़ौज के पूर्व फौजियो को सेना की तरह पेंशन और दूसरे सुविधाए देने से मना कर दिया था |

नेहरु ने संसद मे कहा था कि आज़ाद हिंद फ़ौज एक आतंकवादी फ़ौज है .. इसके सेनानियों को कोई सुविधा नही मिलनी चाहिए

जी हाँ मित्रों, आज की पीढ़ी ये सुनकर हिल जायेगी की कांग्रेस की नजर मे इस देश के लिए अपना बलिदान देने वाले मतवाले आज़ाद हिंद फ़ौज के फौजी गद्दार है |

ये संसद के रिकार्ड मे दर्ज है |

जब डॉ श्यामा प्रशाद मुखर्जी ने नेहरु से आजाद हिंद फ़ौज के पूर्व सैनिको को भारतीय सेना के मानदंड पर पेंशन और भारतीय सेना अपने सैनिको को रिटायर के बाद जो सुविधा देती है वो सब देने का प्रस्ताव रखा था |

लेकिन नेहरु ने कहा की "मै आजाद हिंद फ़ौज को मान्यता नही देता , ये एक आतंकवादी कृत्य था . मै किसी निजी सेना बनाने के खिलाफ हूँ भले ही उसका इस्तेमाल देश के लिए हो , इसलिए मै ऐसे किसी भी प्रस्ताव को स्वीकार नही करूँगा |"

azad-hind-fauz.jpg